कलेक्टर, एसपी एवं सीईओ ओड़िशा बार्डर पहुंचे क्वारेंटाईन सेंटर का किया अवलोकन…..

गरियाबंद,,,कोविड-19 के अंतर्गत राज्य के भीतर आने और अन्य लोगों की जानकारी लेने आज जिले के कलेक्टर श्याम धावड़े, एसपी बी.आर. पटेल एवं जिला पंचायत सीईओ विनय कुमार लंगेह देवभोग से लगे ओड़िशा राज्य के बार्डर खुटगांव चेकपोस्ट पहुंचे। वहां उन्होंने चेकपोस्ट से गुजरने वाले लोगों की जानकारी ली और संबंधित को कड़े निर्देश दिये। साथ ही उन्हें सुरक्षा किट अपनाने के निर्देश भी दिये। इस दौरान कलेक्टर, एस.पी. द्वारा सीनापाली के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल में बनाये गये क्वारेंटाईन सेंटर का अवलोकन किया। यहां कुल 20 मजदूर ओड़िसा और अन्य प्रांत से आये है। इनमें से 14 को स्कूल में क्वारेंटाईन सेंटर में रखा गया है तथा शेष को बाजार चैक में क्वारेंटाईन किया गया है। कलेक्टर धावड़े ने मजदूरों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, मास्क पहनने की समझाईश दी। अधिकारियों ने मजदूरों से चर्चा करते हुए उनके खाने-पीने और अन्य सुविधाओं की जानकारी ली। उन्हें बर्तन के स्थान पर पत्तल में खाना देने के निर्देश वहां के सचिव और सरपंच को दिये। सरपंच की मांग पर स्कूल परिसर पर तत्काल हेण्डपंप लगाने विभागीय अधिकारी को निर्देश दिये है। क्वारेंटाईन सेंटर में कार्य कर रहे ए.एन.एम. श्रीमती केकती देशमुख ने बताया कि यहां बाहर से कुल 195 लोग वापस आयेंगे। कलेक्टर ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों को क्वारेंटाईन सेंटर से न किसी को बाहर जाने और न ही किसी को बाहर से अंदर आने के निर्देश दिये। पुलिस अधीक्षक पटेल ने जबरदस्ती घुसने और माहौल खराब करने वालो के विरूद्ध एफआईआर करने के निर्देश दिये। कलेक्टर धावड़े ने देवभोग के अनुविभाग एवं विकासखण्ड स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर महत्वपूर्ण निर्देश दिये। जनपद सभाकक्ष में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बैठक ली गई। कलेक्टर ने कहा कि विकासखण्ड में आगामी 15 दिनों में लगभग 2500 मजदूर वापस आयेंगे। इन्हें 14 दिन क्वारेंटाईन में अनिवार्य रूप से रखा जाए। उन्होंने कहा कि अभी तक जिला कोरोना मुक्त है इसलिए हमारी कोशिश होनी चाहिए कि अतिरिक्त सतर्कता बरते। उन्होंने जनपद में वार रूम बनाने के निर्देश दिये। साथ ही कहा कि कोरोना को हराने के लिए टीम भावना से बेहतर समन्वय करते हुए कार्य करना है। समय-समय पर दिये गये शासन के निर्देशों का अनिवार्य रूप से पालन किया जाए। संदिग्ध लोगों को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए तत्काल स्वास्थ्य विभाग को सूचित करें। उन्होंने किसी भी अधिकारी-कर्मचारी को अनुविभागीय अधिकारी के बिना अनुमति मुख्यालय नहीं छोड़ने के निर्देश दिये है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि गांव में प्रवेश करने वालों पर कड़ी नजर रखते हुए पर्याप्त जानकारी रखे। उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थिति में बुजुर्ग और बच्चों को अत्यधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता है। मैदानी अमला को शासन द्वारा दिये जा रहे दिशा-निर्देशों की जानकारी होना चाहिए। उन्होंने कहा कि क्वारेंटाईन सेंटर में रहने वालों के लिए सुरक्षा और सावधानी के उपाय किया जाए। जिला पंचायत सीईओ ने ग्राम पंचायत में रोजगारमूलक कार्यो खोलने के निर्देश दिये। बैठक में देवभोग एसडीएम भूपेन्द्र साहू, तहसीलदार, पुलिस, वन, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं अन्य विभाग के अधिकारी मौजूद थे। इसी तरह मैनपुर में भी विकासखण्ड स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेकर दिशा निर्देश दिये गये। यहां 1728 मजदूर आगामी दिनों में आने वाले है। कलेक्टर ने सभी ग्राम पंचायतों के लिए प्रभारी अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिये हैं। बैठक में मैनपुर एसडीएम श्रीमती अंकिता सोम, जनपद सीईओ नरसिंग ध्रुव एवं अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

अधिकारियों ने तेन्दूपत्ता संग्रहण केन्द्र और महिला समूहों के कार्यो का किया अवलोकन,,सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने के निर्देश….गरियाबंद कलेक्टर एवं अधिकारियों ने अपने देवभोग दौरे के दौरान ग्राम कदलीमुड़ा में महिला समूह द्वारा लघु वनोपज खरीदी कार्य का अवलोकन किया। कलेक्टर ने एसपी एवं जिला पंचायत सीईओ के साथ महिला समूहों के सदस्यों से चर्चा कर उनकी गतिविधियों को करीब से देखा। उन्नति क्लस्टर महिला समूह अंतर्गत मां संतोषी स्व सहायता समूह की रेणुका सोरी ने बताया कि महुआ और इमली जैसे लघु वनोपजों की खरीदी उनके द्वारा किया जा रहा है। अभी तक 12 क्विंटल महुआ और एक क्विंटल इमली की खरीदी की जा चुकी है, जिससे उन्हें लाभ मिलेगी। इसके अलावा एक एकड़ क्षेत्र में मक्का की खेती भी किया गया है। समूह की महिलाओं ने बताया कि उनके द्वारा गन्ना से गुड़ भी बनाया जा रहा है। इस मौके पर उनके गतिविधि को सराहते हुए अधिकारियों ने 10 किलो गुड़ भी खरीदा।
मैनपुर विकासखण्ड में शासन की तेंदूपत्ता संग्रहण केन्द्र का अवलोकन अधिकारियों द्वारा किया गया। तौरेंगा में तेंदूपत्ता संग्रहण केन्द्र में अवलोकन करने के दौरान फड़ मुंशी ने बताया कि 4 मई से प्रारंभ हुए तेंदूपत्ता खरीदी में अभी तक 60 हजार गड्डी तेंदूपत्ता की खरीदी की जा चुकी है। उन्होंने संग्राहकों को सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाने की समझाईश दी। इस दौरान एसपी बी.आर. पटेल और जिला पंचायत सीईओ विनय कुमार लंगेह भी मौजूद थे।

कलेक्टर,एसपी,सीईओ ने कुए के पानी से प्यास बुझाई:-जब कलेक्टर एसपी ने कुएं से पानी निकालकर अपनी प्यास बुझाई देवभोग से वापसी के दौरान कलेक्टर, एसपी और जिला पंचायत सीईओ ने तौरेंगा के कुएं से पानी निकालकर अपनी प्यास बुझाई। कलेक्टर ने स्वयं बाल्टी से पानी खीचकर पानी पिया। इसी तरह एसपी ने भी पानी पिया। कहा जाता है कि यह कुआ ब्रिटिश काल में बनाई गई थी। आज भी इस पानी में औषधीय गुण पाये जाते है। गांव के लोगों ने बताया कि इस कुंआ का पानी का स्वाद दूर-दूर तक फैली हुई है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.