भांग के फायदे और नुकसान जानते हैं आप? सेवन से पहले जरूर जाने लें ये बातें

भांग, गांजा ये सभी एक प्रकार के मादक या नशा पहुंचाने वाले पदार्थ (ड्रग) हैं। हालांकि, भांग का सेवन लोग विशेष मौकों पर जैसे होली, शिवरात्रि पर करते हैं। ठंडई में भांग मिलाकर पीने का खूब चलन है। भांग के बीजों को हेम्प सीड कहते हैं। भांग, गांजा से काफी अलग होता है और कम नशा करने वाला होता है। भांग हो या गांजा, सभी कैनबिस प्रजाति के पौधे हैं। भांग को इसके पौधे की पत्तियों से तैयार किया जाता है। गांजा, चरस का तंबाकू में धूम्रपान के रूप में किया जाता है, जबकि भांग को पेय पदार्थों में इस्तेमाल किया जाता है। भांग का प्रयोग हल्के नशे, दवाओं, कई शारीरिक समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है। हालांकि, किसी भी मादक पदार्थ, अल्कोहल की खासियत नहीं होती और इनका सेवन जितना कम किया जाए, सेहत के लिए उतना ही बेहतर है। पर, भांग का सेवन सीमित मात्रा में करने से फायदे भी होते हैं।

भांग में मौजूद पोषक तत्व (Cannabis or Bhang Nutrients)

इसके बीज, इसके फलों की तरह नशा नहीं करते हैं। यह सेहत को कई तरह से लाभ पहुंचाता हैं। भांग या इसके बीजों में मौजूद पोषक तत्वों की बात करें, तो इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट्स, प्रोटीन, ओमेगा-3, फाइबर, ओमेगा-6 फैटी एसिड होता है, जो शरीर के लिए आवश्यक होते हैं।

भांग के फायदे (Bhang Benefits In Hindi)

1 भांग के बीजों में फाइबर की बहुलता होती है। इसे किसी भी रूप में सेवन करने से पेट देर तक भरा होने का अहसास होता है। इससे जल्दी-जल्दी भूख नहीं लगती है। कहा जाता है कि भांग (Cannabis benefits in hindi) ब्लड शुगर लेवन को भी कंट्रोल करता है।

2 भांग के बीजों में अधिक मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड मौजूद होता है। ओमेगा-3 फैटी एसिड के अलावा, इसमें अमीनो एसिड भी होता है। ये दोनों ही तत्व हार्ट को हेल्दी रखते हैं। भांग के सेवन से कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम सही रहता है।

3 अर्थराइटिस के दर्द से जो लोग परेशान रहते हैं, उनके लिए भी भांग के बीज (Bhang benefits in hindi) फायदेमंद होते हैं। भांग (Bhang) में मौजूद एनालजेसिक (analgesic), इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी अर्थराइटिस (Arthritis) के दर्द को कम करता है।

4 एक शोध के अनुसार, भांग (cannabis) से कैंसर का इलाज भी किया जा सकता है। भांग (cannabis benefits) में मौजूद औषधीय तत्व अग्नाश्य कैंसर (Pancreatic cancer) से पीड़ित मरीजों को लंबा जीवन जीने में मदद कर सकता है, जो कीमोथेरेपी के जरिए अपना इलाज करा रहे हों।

5 भांग, गांजा (Cannabis side effects in hindi) या किसी भी मादक पदार्थ (Drugs) के अधिक सेवन से सबसे ज्यादा आपकी मानसिक सेहत को नुकसान पहुंचता है। गांजा, भांग आदि से मानसिक संतुलन बिगड़ सकता है, लेकिन यह भी सच है कि भांग को सीमित और कम मात्रा में लेने से अधिक नुकसान नहीं होता है। इसका इस्तेमाल मानसिक रोगों से पीड़ित मरीजों के इलाज में किया जाता है।

नोट– भांग चाहे कितने भी महत्वपूर्ण प्रॉपर्टीज और फायदों से भरपूर क्यों ना हो, इसका सेवन कभी भी खाली पेट नहीं करना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को भांग या किसी भी तरह के मादक पदार्थ के सेवन से बचना चाहिए। बेहतर है कि आप हर दिन की बजाय भांग का मजा होली या शिवरात्रि के दिन ही ठंडई के साथ करें। भांग, गांजा, कैनबिस, मैरिजुआना जो भी कह लें, इनसे खुद को बचाकर ही रखना ही आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.