कोरोनावायरस महामारी की रफ्तार एक बार फिर लहर तेज..बाकी देशों की तरह भारत मे लॉक-डाउन को लेकर..

कोरोनावायरस महामारी की रफ्तार एक बार फिर तेज होती दिख रही है। दुनियाभर में संक्रमण एक बार फिर फैल रहा है। यही वजह है कि इसके प्रकोप से बचने के लिए फ्रांस के बाद अब ब्रिटेन ने भी लॉकडाउन-2 का की घोषणा की है।

इस खबर के बाद भारत के लोगों के मन में भी अब सवाल उठने लगे हैं कि क्या हमारे यहां भी लॉकडाउन (Lockdown Again) लगाया जा सकता है क्या?

भारत में भी दूसरी लहर शुरू

पिछले दिनों एम्स दिल्ली (AIIMS Delhi) के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने चेतावनी दी कि कोरोना (Coronavirus in india) की दूसरी लहर शुरू हो गई है। एम्स के निदेशक ने कहा कि लापरवाही और वायु प्रदूषण के कारण कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। ऐसे में सावधानी बरतनी चाहिए, नहीं तो स्थिति भयावह हो सकती है।

हालाँकि सरकार का स्वस्थ मंत्रालय का कहना है भारत में रिकवरी रेट अच्छी है । कोरोना क़ाबू में है सरकार लॉक्डाउन का कोई विचार नही है ।सरकार ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है की भारत सरकार का लॉक्डाउन से unlock की ओर बढ़ रहा है देश।

मीडिया सूत्रों की बात करे तो लॉक्डाउन विदेश में लगने के बाद ही भारत में लगा था तो हो सकता है की आने वाले समय भारत सरकार कोरोना के यदि रफ़्तार से मरीज़ बढ़े तो विचार कर सकती है !

46,964 नए मामले

भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 46,964 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 81,84,083 हुई जबकि 470 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,22,111 हो गई है। देश में कोरोना वायरस के सक्रिय मामलों की संख्या 5,70,458 और ठीक हुए मामलों की संख्या 74,91,513 है।

दूसरे लॉकडाउन की घोषणा

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने देश में दूसरे लॉकडाउन की घोषणा की है जिसकी मियाद 5 नवंबर से शुरू होगी। 2 दिसंबर तक यह लॉकडाउन जारी रहेगा। जॉनसन ने लॉकडाउन की घोषणा करते हुए लोगों को घरों में रहने की सलाह दी है। साथ ही कहा है कि 2 दिसंबर के बाद स्थिति की समीक्षा करने का काम सरकार करेगी। इसके बाद ही आगे का निर्णय लिया जायेगा।

ब्रिटेन में कोविड-19 (Covid-19) के मामलों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के मद्देनजर प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (British PM Boris Johnson) ने शनिवार को देश भर में फिर से एक महीने का लॉकडॉउन (One Month Lockdown) लगाने की घोषणा की है. बोरिस जॉनसन ने शुक्रवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों में हो रही वृद्धि और अस्पताल में मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर पाबंदियां लगाने के मुद्दे पर मंत्रिमंडल के वरिष्ठ सहयोगियों से विचार-विर्मश किया था. यह उम्मीद जताई जा रही थी कि लॉकडाउन लगाने की घोषणा सोमवार को की जाएगी, लेकिन परिस्थितियों की गंभीरता को देखते इसकी घोषणा शनिवार को ही कर दी गई.

गुरुवार से सख्ती से लागू किया जाएगा लॉकडाउन

देशभर में गुरुवार से लॉकडाउन का पालन सख्ती से किया जाएगा. इसके लिए नए नियमों की भी घोषणा कर दी गई है. लोगों को घरों से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी. उन्हें कुछ खास परिस्थितियों में ही घरों से बाहर जाने की छूट होगी. वे काम के लिए दफ्तर, स्कूल, कॉलेज और एक्सरसाइज करने के लिए घरों से बाहर जा सकेंगे. आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को छोड़कर सब कुछ बंद रहेगा. यह पाबंदियां 2 दिसंबर तक लागू किए जाने की योजना है.

कुछ चीजों को छोड़ सब बंद किए जाएंगे

इस नई पाबंदी के तहत पब, बार और रेस्टोरेंट बंद रहेंगे लेकिन रेस्टोरेंट से खाना घर ले जाकर खा सकेंगे. ब्रिटेन में सभी मनोरंजन की जगहें बंद रहेंगी और गैर-अनिवार्य वस्तुओं की दुकानें बंद रहेंगी. बोरिस जॉनसन ने कहा कि हमें अब कार्यवाही करनी ही होगी क्योंकि हमारे पास कोई अन्य विकल्प नहीं बचा है. ये बातें उन्होंने लॉकडाउन की प्लानिंग पर कैबिनेट बैठक में हस्ताक्षर करने के बाद कही.

हम प्रकृति के सामने नतमस्त हो गए हैं: बोरिस जॉनसन

बोरिस जॉनसन ने कहा कि हम प्रकृति के सामने नतमस्तक हो गए हैं. इस देश में, यूरोप में कोरोनावायरस का संक्रमण वैज्ञानिक सलाहाकारों के मुताबिक अन्य जगहों की तुलना में तेजी से फैल रहा है.

ब्रिटिश प्रधानमंत्री नए उपायों को लागू करेंगे. इसके तहत इन उपायों में एक वित्तीय सहायता योजना का विस्तार करना शामिल है ताकि व्यवसायों को एक अतिरिक्त महीने से दिसंबर के लिए कर्मचारियों को भुगतान करने में मदद मिल सके. इस आशय की घोषणा सोमवार को संसद में की जा सकती है. इस पर बुधवार को सांसद वोटिंग करेंगे.

यूरोप में कोरोना की दूसरी लहर

यूरोप में कोरोना के मामलों में दोबारा आए उछाल पर काबू पाने के लिए कई देशों में फिर से लॉकडाउन लगाया जा रहा है. इससे पहले फ्रांस में गुरुवार को चार हफ्ते के लॉकडाउन का ऐलान किया गया था

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.