बी.लिब.,एम.लिब. डिग्रीधारी बेरोजगार संघ द्वारा आम आदमी पार्टी युथ विंग के समर्थन में स्कूलों के ग्रंथालय में रिक्त पदों पर नियुक्ति हेतु जिला कलेक्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री एवं शिक्षामंत्री को सौंपा ज्ञापन…

बिलासपुर। संजय मिश्रा

छत्तीसगढ़ राज्य के शासकीय स्कूलों मे अध्ययनरत विद्यार्थियों की आवश्यकता पूर्ति के लिए शासन के द्वारा हायर सेकेंडरी स्कूलों में ग्रंथालय की सुविधा दी गई है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश में सत्र 2009 में ग्रंथालय अधिनियम भी पारित की गई।

पर समय के बीतनें के पश्चात सरकार को जीवंत लाइब्रेरी प्रारम्भ करनें की आवश्यकता पर अब महत्व नहीं दे रही है।

हज़ारों स्कूलों में ग्रंथालय की सुविधा तो दी गई परंतु उसमें अभावों की भरमार है,
ग्रंथालय के लिए स्कूलों में एक कमरे को आबंटित की गई है, जिसमें पाठ्यपुस्तकों को गोदाम की तरह भर करके रखें हुए हैं, ना तो आवश्यकता के अनुरूप कुर्सी टेबल, और ना ही सम्पूर्ण प्रबंधन के लिए कोई भी अनुदान राशि प्रदान की गई है।

दूसरी ओर एक पुस्तकघर को मूर्त रूप से ग्रंथालय बनानें के लिए ग्रन्थपाल ही नहीं हैं, ग्रंथालय को संचालन करनें के लिए कर्मचारियों का प्रबंध सरकार द्वारा सही रुप से नहीं की गई है।

यह कहना गलत नहीं है कि सरकारी फाइल में ही प्रदेश के स्कूलों की लाइब्रेरी संचालित है,
प्रदेश के 92% स्कूल की लाइब्रेरी में तालाबन्दी है, सरकारी हायर सेकेंडरी स्कूलों में सिर्फ 193 स्कूलों में ही ग्रन्थपाल नियुक्त है, जो कि सूचना के अधिकार अधिनियम द्वारा जानकारी मांगने पर ज्ञात हुआ है, बाॅकी 2382 स्कूलों में प्रभारी के भरोसे ग्रंथालय संचालित है।

इसी तारतम्य में बिलासपुर जिले में भी 122 पद रिक्त है, प्रदेश के अधिकतर जिलों में स्वीकृत हुए ग्रन्थपाल के पद नहीं भरे जानें के कारण प्रदेश के पुस्तकालय विज्ञान के प्रशिक्षित बी.लिब., एम.लिब. डिग्री धारी युवा बेरोजगार है,
प्रदेश के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूलों में 2575 पद ग्रन्थपाल के स्वीकृत है, तथा 2382 पद रिक्त है, जिसका प्रतिकूल रूप से सीधा असर स्कूल में अध्ययनरत विद्यार्थियों को भी पड़ रहा है।

अधिकतर स्कूलों में विद्यार्थियों को यह भी नहीं मालूम रहते हैं कि स्कूल में लाइब्रेरी संचालित है, उन्हें पूरे साल भर स्कूल से ना तो पढ़नें के लिए पुस्तक ईश्यू की जाती है और ना ही ग्रंथालय ले जाया जाता हैं।

ग्रन्थपाल के पदों मे जल्द भर्ती हो इसी मांग को लेकर डिग्री धारी युवा बेरोजगार संघ द्वारा बिलासपुर जिलाधीश माननीय कलेक्टर महोदय के द्वारा छत्तीसगढ़ प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री तथा माननीय स्कूल शिक्षा मंत्री के नाम ज्ञापन सौपा गया।

जल्द से जल्द ग्रन्थपाल के पदों में भर्ती की मांग को लेकर युवा बेरोजगारों के समर्थन में आम आदमी पार्टी युथ विंग के सदस्य भी बिलासपुर में ज्ञापन देनें कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचे थे।

ज्ञापन देनें वालों में प्रमुख रूप से पुस्तकालय विज्ञान के डिग्री धारी असकरन दास जोगी, धौकल सिंह, संजय गढ़ेवाल,
निधि साहु, चित्र रेखा, राखी पटेल, आम आदमी पार्टी युथ विंग से जिला अध्यक्ष अनिलेश मिश्रा, रेनू तिवारी, काजल साहू, निकिता ठाकुर, भागवत साहू,
शामिल थे।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.